Sunday, May 19

Nitesh Reddy के खेल के सामने थे PBKS के बल्लेबाज बेबस

कृपया मेरा अनुरोध है कमजोर दिलवाले Punjab Kings का मैच ना देखा करें. इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन सी टीम ने कितने टाइटल जीते हैं. अगर रोमांचित मुकाबला की बात करेंगे तो 2014 से लेकर 2024 तक पिछले 10 सालों में सबसे ज्यादा रोमांचित मुकाबले पंजाब ने ही खेले हैं. पिछले रात हुए मैच में भी कुछ ऐसे ही नजारे थे.

टॉस

टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का निर्णय लिया पंजाब किंग्स के कप्तान शिखर धवन ने मगर किसी हद तक ट्रेविस हेड ने कैगिसो रबाडा को तीसरे हां तुम क्या बता रहे थे की पहली तीन बोलो पर चोके मारकर शिखर धवन का निर्णय गलत साबित करने की कोशिश की.

चौथा ओवर फेंकने आए अर्शदीप सिंह ने पहले दूसरी बॉल पर ट्रेविस हेड और चौथी बॉल पर बिना खाता खोले मार्क्रम को आउट कर दिया.

पावरप्ले

हैदराबाद ने पावरप्ले में तीन विकेट खोकर 40 रन बनाए. हैदराबाद के विकेट नियमित अंतराल पर गिरते रहे. चौधरी ओवर की पहली बॉल पर जब कलासन आउट हुए तब लगा के गाड़ी पटरी से पूरी तरह से उतर चुकी है. मगर भारत के दो उनकैप्ड प्लेयर नीतीश रेड्डी और अब्दुल समद मैं एक तरफ से हिट करना शुरू किया तो रुके ही नहीं. एक बार फिर हैदराबाद को मैच में पीछे धकेला अर्शदीप सिंह ने जिन्होंने एक ही ओवर में पहले अब्दुल समद नीतीश रेड्डी को आउट कर मैच में पंजाब की वापसी करवाई. अंत में शाहबाज के बल्ले से कुछ रन आए और हैदराबाद 182 पर पहुंच गया.

पंजाब की तरफ से रबर ने चार ओवर में 32 रन देकर एक विकेट करण ने चार ओवर में 41 रन दे कर दो विकेट हर्षल पटेल ने भी चार ओवर में 30 रन देकर दो विकेट लिए मगर बोलिंग की हाइलाइट्स रहे और अर्शदीप सिंह जिन्होंने चार ओवरों में महज 29 रन देकर चार विकेट लिए.

Punjab Kings की बल्लेबाजी

पंजाब की बल्लेबाजी भी कुछ खास शुरुआत अच्छी नहीं दे पाई पहले जॉनी बैरिस्टओ फिर प्रभसिमरन सिंह और फिर शिखर धवन पावर प्ले में ही अपने विकेट गवा बैठे.

पावर प्ले में पंजाब का स्कोर 27 रन पर तीन विकेट था फिर करण और सिकंदर राजा कितने रन रेट बढ़ाने की कोशिश की मगर 58 के स्कोर पर समीकरण और 91 के स्कोर पर सिकंदर राजा पवेलियन लौट चुके थे. ऐसे में एक बार फिर मैच का बाहर जितेश शर्मा शशांक सिंह और आशुतोष शर्मा के कंधों पर आ चुका था. जितेश शर्मा ने कोशिश की मगर सफल न हो पाए 11 बोलो पर 19 रन बनाकर वह भी पवेलियन लोट कर चुके थे. मैच धीरे-धीरे पंजाब की पकड़ से बाहर होता जा रहा था मगर शशांक और आशुतोष का कुछ और ही मानना था.

आखिरी तीन ओवर Punjab Kings

  • आखिरी के तीन ओवर में पंजाब को जीत के लिए 50 रन की आवश्यकता थी.
  • ऐसे में पेट कमेंट्स फेकने आए 18 ओवर उन्होंने सिर्फ अपने ऊपर से 11 ही रन दिए
  • पंजाब को मैच में और पीछे कर दिया.
  • 19 व ओवर फेंकने आए नटराजन अपने ओवर में 10 रन देकर
  • मैच से लगभग लगभग पंजाब को बाहर ही कर चुके थे
  • .फिर आखरी ओवर फेंकने आए जयदेव उनादकट आखिरी ओवर में 29 रन की आवश्यकता थी
  • आशुतोष शर्मा ने पहले ही बोल पर छक्का मार कर
  • और फिर प्रेशर में आए ज्यादा मिनट कितने लगातार दो वाइड पैकिंग
  • और फिर जो दूसरी नॉर्मल बाल डाली उसपर भी
  • आशुतोष शर्मा ने छक्का मारकर पांच बोलों
  • पर 15 रन की इक्वेशन लाकर खड़ी कर दी
  • .फिर तीन बॉल अच्छी डालने के बाद
  • आखिरी बॉल पर शशांक सिंह ने छक्का मारकर
  • मैच खत्म किया मगर दो रन से पीछे रह गए.
  • यह मैच सनराइजर्स हैदराबाद की
  • Run के मामले में सबसे करीबी जीत है.
  • इस मैच की सबसे बड़ी हाइलाइट्स रहे चार खिलाड़ी
  • सबसे पहले पहली पारी में तो नीतीश रेड्डी
  • और अर्शदीप सिंह और फिर
  • दूसरी पारी में आशुतोष शर्मा और शशांक सिंह.

read more on SAMACHAR PATRIKA

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *