Tuesday, July 16

Tag: “Google news”

Exit Poll को लेकर बीजेपी का हमला: कांग्रेस के फैसले पर उठे सवाल
मनोरंजन

Exit Poll को लेकर बीजेपी का हमला: कांग्रेस के फैसले पर उठे सवाल

2024 लोकसभा चुनाव: Exit poll पर आयोग का बड़ा फैसला 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। चुनाव आयोग ने घोषणा की है कि Exit poll के परिणाम मतदान के सातवें चरण के आधे घंटे बाद तक प्रकाशित नहीं किए जाएंगे। यह निर्णय चुनाव प्रक्रिया की निष्पक्षता और पारदर्शिता को बनाए रखने के उद्देश्य से लिया गया है। Exit poll क्या होता है? Exit poll वह प्रक्रिया है जिसके तहत मतदान केंद्रों पर मतदान करने वाले लोगों से पूछा जाता है कि उन्होंने किसे वोट दिया। इससे चुनावी रुझानों का अंदाजा लगाया जाता है और परिणामों की भविष्यवाणी की जाती है। Exit poll के नतीजे चुनाव के आधिकारिक परिणामों से पहले ही सार्वजनिक किए जाते हैं, जिससे मतदाताओं और राजनीतिक दलों में उत्तेजना बढ़ जाती है। चुनाव आयोग का निर्णय क्यों महत्वपूर्ण है? चुनाव आयोग के इस निर्णय का मुख्य उद्देश्य चुनाव प्रक्रिया की शुचिता...
Agnikul के रॉकेट लॉन्च की कहानी: जानिए क्या है इसकी खासियत
नेशनल

Agnikul के रॉकेट लॉन्च की कहानी: जानिए क्या है इसकी खासियत

Agnikul: भारत के दूसरे निजी रॉकेट की सफल लॉन्चिंग भारत में अंतरिक्ष अनुसंधान का इतिहास हमेशा से गौरवमय रहा है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने कई बड़े प्रोजेक्ट्स में सफलता प्राप्त की है। लेकिन इस बार यह गौरव निजी क्षेत्र को भी मिल रहा है। Agnikul ने भारत का दूसरा निजी तौर पर निर्मित रॉकेट, अग्निबाण, सफलतापूर्वक लॉन्च किया है। यह न केवल भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम में महत्वपूर्ण कदम है, बल्कि यह भारतीय निजी कंपनियों की भी बड़ी उपलब्धि है। Agnikul: भारतीय अंतरिक्ष उद्योग में नई क्रांति Agnikul एक भारतीय स्टार्टअप है जो निजी तौर पर रॉकेट और स्पेस लॉन्च व्हीकल्स का निर्माण करता है। इस कंपनी का उद्देश्य अंतरिक्ष में छोटे उपग्रहों को भेजने के लिए कम लागत और अधिक प्रभावी समाधान प्रदान करना है। Agnikul का मुख्यालय चेन्नई में स्थित है और यह आईआईटी मद्रास के अनुसंधान पार्क से संचालित होत...
Prajwal Revanna मामले में बड़ा खुलासा: कल लौटने पर क्या कहेंगे?
क्राइम, नेशनल

Prajwal Revanna मामले में बड़ा खुलासा: कल लौटने पर क्या कहेंगे?

Prajwal Revanna के भारत वापसी की नवीनतम जानकारी भारत के राजनीतिक क्षेत्र में Prajwal Revanna का नाम एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। उनकी राजनीतिक सक्रियता और प्रभावशाली व्यक्तित्व ने उन्हें जनता के बीच एक लोकप्रिय नेता बना दिया है। हाल ही में Prajwal Revanna की भारत वापसी को लेकर कई अटकलें और चर्चाएँ हो रही हैं। आइए, हम इस बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करें और उनके राजनीतिक सफर पर एक नजर डालें। Prajwal Revanna कौन हैं? Prajwal Revanna भारतीय जनता दल (सेक्युलर) के प्रमुख नेता और पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी. देवेगौड़ा के पोते हैं। उनका जन्म 1989 में हुआ और वे कर्नाटक के हासन जिले से आते हैं। उन्होंने अपनी शिक्षा और राजनीतिक करियर में कई महत्वपूर्ण मुकाम हासिल किए हैं। भारत वापसी की खबर हाल ही में आई खबरों के अनुसार, Prajwal Revanna आज रात भारत लौटने वाले हैं। उनकी वापसी को लेकर जनता में का...
TRP game zone में भयानक हादसा: क्या शॉर्ट सर्किट बना मौत का कारण?
नेशनल

TRP game zone में भयानक हादसा: क्या शॉर्ट सर्किट बना मौत का कारण?

TRP game zone: एक निराशाजनक घटना TRP game zone, जो कि गुजरात के राजकोट शहर में स्थित है, हाल ही में एक भयानक घटना का सामना कर रहा है। यहां पर गेमिंग के शौकीन लोगों को मनोरंजन के लिए अवसर मिलता है, लेकिन इस बार कुछ ऐसा हुआ कि सारे जोन में हलचल मच गई। घटना का विवरण-TRP game zone रात के समय, जब लोग TRP game zone में मनोरंजन के लिए मौजूद थे, तभी एक आग लग गई। इस आग के कारण कई लोगों की मौत हो गई, जिसमें बच्चे भी शामिल हैं। इस घटना के पश्चात, स्थानीय अधिकारी तत्परता से काम में लगे और घायलों को अस्पताल में भर्ती किया गया। अधिक जानकारी आग के बढ़ते हुए हल्ले और रोशनी के बंद हो जाने से लोगों को बाहर निकलने में कठिनाई हुई। इसके अलावा, अग्निशमन की ट्रक पहुंचने में भी समय लगा, जिसके कारण आग का प्रकोप और भी बढ़ गया। सुरक्षा की कमी- TRP game zone TRP game zone में सुरक्षा की कमी के मामले म...
Accordion क्या है और क्यों है इतना प्रसिद्ध
नेशनल

Accordion क्या है और क्यों है इतना प्रसिद्ध

Google Doodleने Accordion को समर्पित किया: जानिए इस जर्मन वाद्य यंत्र की खास बातें Google Doodleने हाल ही में Accordion नामक जर्मन वाद्य यंत्र को सम्मानित किया है। इस अनोखे वाद्य यंत्र ने सदियों से संगीत प्रेमियों का दिल जीता है और फोक संगीत में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। आइए, इस लेख में हम अकॉर्डियन के इतिहास, इसकी संरचना और इसके उपयोग के बारे में विस्तार से जानते हैं। Accordion का इतिहास Accordion का आविष्कार 19वीं सदी की शुरुआत में जर्मनी में हुआ था। इसे सबसे पहले 1822 में बर्लिन के क्राफ्टमेकर क्रिश्चियन बुशमैन ने पेश किया था। इस यंत्र का विकास धीरे-धीरे हुआ और 19वीं सदी के मध्य तक यह यूरोप के विभिन्न हिस्सों में लोकप्रिय हो गया। अकॉर्डियन की संरचना Accordion एक पंप एक्शन वाद्य यंत्र है जिसमें बेलोज़, कीबोर्ड और बटन्स होते हैं। इसका डिज़ाइन काफी जटिल है लेकिन इसके संचालन का तर...
सोशल मीडिया पर कंगना रनौत की गलती: Tejasvi Surya को किया टार्गेट
नेशनल

सोशल मीडिया पर कंगना रनौत की गलती: Tejasvi Surya को किया टार्गेट

Kangana Ranaut  ने Tejashwi Yadav पर हमला करना चाहा, लेकिन भाजपा के सहयोगी Tejasvi Surya पर टार्गेट किया बॉलीवुड अभिनेत्री Kangana Ranaut ने हाल ही में एक विवादित बयान दिया, जिसमें उन्होंने भारतीय राजनीति के प्रमुख नेता Tejashwi Yadav को निशाना बनाने का इशारा किया। हालांकि, इसके स्थान पर उनका निशाना भाजपा के Tejasvi Surya पर आ गया। इस घटनाक्रम ने मीडिया और राजनीतिक गलियारों में खलबली मचा दी है। Tejasvi Surya और उनकी राजनीतिक भूमिका Tejasvi Surya भारतीय जनता पार्टी के उभरते हुए नेताओं में से एक हैं। उनका नाम देशभर में युवाओं के बीच तेजी से प्रसिद्ध हो रहा है। उन्होंने अपने तीखे भाषणों और स्पष्ट विचारों के कारण राजनीति में एक महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त किया है। Tejasvi Surya ने अपने पार्टी की नीतियों का प्रचार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, और उनकी लोकप्रियता दिन-ब-दिन बढ़ रही है। Ka...