Sunday, May 19

Ruturaj Gaikwad का टॉस रिकॉर्ड: CSK के लिए चिंता का कारण।

CSK के नए कप्तान Ruturaj Gaikwad के लिए टॉस हारना बना बुरा सपना

चेन्नई: चेन्नई सुपर किंग्स के नए कप्तान Ruturaj Gaikwad के लिए टॉस हारना एक बड़ा सिरदर्द बन गया है। बुधवार को, गायकवाड़ ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2024 के इस सीजन में 10 मैचों में से नौवीं बार टॉस गंवा दिया। इस बार, टॉस का फायदा पंजाब किंग्स को मिला, जिन्होंने चेपॉक स्टेडियम में परिस्थितियों का पूरा उपयोग करते हुए चेन्नई सुपर किंग्स को उनके ही घर पर सात विकेटों से हरा दिया।

Ruturaj Gaikwad टॉस हारने का दबाव और तैयारी

टॉस में लगातार हारने के सिलसिले के बीच, गायकवाड़ ने स्वीकार किया कि टॉस के समय वह दबाव में रहते हैं और उन्होंने मैच से पहले टॉस की प्रैक्टिस भी की थी। टॉस हारने के कारण टीम को कई बार पहले बल्लेबाजी करनी पड़ी है, जो इस मैच में भी उनके खिलाफ गया।

PBKS की जोरदार जीत

पंजाब किंग्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को सात विकेटों से हराकर एक प्रभावशाली जीत दर्ज की। चेन्नई सुपर किंग्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 151 रन बनाए, जो इस पिच पर औसत स्कोर था। पंजाब किंग्स ने इसे केवल 17 ओवर में ही पूरा कर दिया, जिससे यह साबित होता है कि टॉस हारने का असर मैच के नतीजे पर पड़ा।

Ruturaj Gaikwad की प्रतिक्रिया

मुकाबले के बाद, चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान रुतुराज गायकवाड़ ने कहा कि उनकी टीम 50-60 रन कम थी और पिच का हाल पहली पारी में अच्छा नहीं था, लेकिन दूसरी पारी में उसमें सुधार हुआ। उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि उनकी टीम को और मेहनत करने की जरूरत है, खासकर टॉस के बाद की रणनीतियों में।

Ruturaj Gaikwad के लिए भविष्य की योजना

इस हार के बाद, चेन्नई सुपर किंग्स को अपने खेल में सुधार करने की आवश्यकता है, खासकर जब वे टॉस हार जाते हैं। टीम को गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों में और भी प्रयास करने होंगे, ताकि वे टॉस के नतीजे के बावजूद मुकाबला कर सकें। कप्तान गायकवाड़ को भी टॉस के दबाव से उबरने के लिए नए तरीके तलाशने होंगे।

निष्कर्ष

  • टॉस का परिणाम एक खेल के नतीजे को प्रभावित कर सकता है,
  • लेकिन यह केवल एक तत्व है।
  • चेन्नई सुपर किंग्स को अपने खेल के हर पहलू में सुधार करने की जरूरत है,
  • ताकि वे आने वाले मैचों में बेहतर प्रदर्शन कर सकें।
  • टॉस की चिंता को पीछे छोड़कर,
  • टीम को अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।
  • पंजाब किंग्स की इस जीत ने उन्हें अंक तालिका में ऊंची स्थिति में पहुंचाया है,
  • जबकि चेन्नई सुपर किंग्स को इस हार से सबक लेकर अगले मैचों के लिए बेहतर योजना बनानी होगी।

read more on SAMACHAR PATRIKA

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *