Monday, May 27

क्या बेटियां कभी सुरक्षित होंगी? नाबालिग की हत्या से सवाल खड़े

Lakhimpur Kheri जिले के एक गांव में दर्दनाक घटना सामने आई है। पुलिस ने कथित तौर पर पीट-पीटकर मार डाली गई एक 13 साल की लड़की का क्षत-विक्षत शव गन्ने के खेत से बरामद किया है।

क्या हुआ था? ( Lakhimpur Kheri )

सूत्रों के अनुसार, लड़की स्कूल से लौटते समय गायब हो गई थी। परिजनों ने पुलिस को सूचना दी कि वह देर रात तक वापस नहीं आई है, लेकिन उस समय पुलिस ने उनकी शिकायत दर्ज नहीं की। मां का आरोप है कि पुलिस की निष्क्रियता के कारण उनकी बेटी की मौत हो गई। उनका कहना है कि अगर पुलिस ने समय पर उनकी शिकायत दर्ज कर ली होती, तो शायद लड़की को बचा लिया जाता।

अगले दिन ग्रामीणों को खेत में लड़की का शव मिला। उसकी हालत देखकर हर कोई सहम गया। शरीर पर गंभीर चोट के निशान थे और आंखें भी निकाल ली गई थीं। पुलिस मौके पर पहुंची, शव को बरामद किया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। साथ ही, मामले की शिकायत दर्ज कर ली गई।

लखीमपुर खीरी के पुलिस अधीक्षक (एसपी) गणेश प्रसाद साहा ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और जांच के लिए तीन टीमों का गठन किया। उन्होंने कहा, “प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि लड़की को पीट-पीटकर मार डाला गया है क्योंकि शरीर पर काफी चोट के निशान हैं, लेकिन पोस्टमार्टम परीक्षण के बाद ही सारे तथ्य सामने आ पाएंगे। फिलहाल मामले की जांच जारी है और आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है।”

परिवार का आरोप ( Lakhimpur Kheri )

पीड़िता की मां का आरोप है कि उनकी बेटी के साथ बलात्कार किया गया था। उनका कहना है कि उनकी बेटी रविवार सुबह पास के मदरसे में पढ़ने गई थी, लेकिन शाम तक घर वापस नहीं आई।

परिजनों ने काफी तलाश की लेकिन कुछ पता नहीं चला।

आखिरकार उन्होंने तिकुनिया थाने में रात करीब 12 बजे गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई।

इसके बाद अगले दिन दोपहर करीब 1 बजे गांव के पास ही गन्ने के खेत से उनकी लाश बरामद हुई।

जांच जारी

पुलिस अधीक्षक का कहना है कि मामले की जांच प्राथमिकता से की जा रही है

और दोषियों को जल्द से जल्द पकड़ लिया जाएगा।

उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

इस घटना पर सवाल

यह घटना कई सवाल खड़े करती है।

सबसे पहला सवाल पुलिस की लापरवाही को लेकर है।

अगर पुलिस समय पर परिजनों की शिकायत दर्ज करती तो क्या यह हादसा टाला जा सकता था?

दूसरा अहम सवाल ये है कि आखिर इस तरह की जघन्य अपराध लगातार क्यों बढ़ रहे हैं?

हम सबकी ज़िम्मेदारी ( Lakhimpur Kheri )

बालिकाओं के साथ हो रहे ऐसे जघन्य अपराध समाज के लिए कलंक हैं।

हमें मिलकर ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए प्रयास करने चाहिए।

समाज में जागरूकता फैलाना और बच्चों को आत्मरक्षा की शिक्षा देना बहुत जरूरी है।

साथ ही, पुलिस प्रशासन को भी इस तरह के मामलों में तत्परता दिखानी चाहिए ताकि ऐसी घटनाओं पर लगाम लगाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *