प्रतिबंध होने के बावजूद चल रहा ईंट भट्ठे का पजावा – समाचार पत्रिका

समाचार पत्रिका

Latest Online Breaking News

प्रतिबंध होने के बावजूद चल रहा ईंट भट्ठे का पजावा

😊 Please Share This News 😊

गोरखपुर, समाचार पत्रिका।

चौरीचौरा। चौरीचौरा तहसील अंतर्गत झंगहा थाना क्षेत्र के दुबौली में अवैध रूप से संकलित हो रहे भठ्ठे को बन्द करा देने के बाद भठ्ठा संचालक प्रदूषण विभाग और एनजीटी के निर्देशों को ताक पर रख कर प्रतिबंधित पजावा (ईंट पकाने की पुरानी विधि) लगाकर ईंट पका रहा है। जिम्मेदार विभाग के लोगों ने इसको रोकने का प्रयास तक नहीं किया। नतीजा यह है कि पहला पजावा बन्द नहीं हो पाया।

उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी बंदी आदेश के बाद तहसील प्रशासन और प्रदूषण विभाग ने बन्द करा दिया था। प्रशासन द्वारा बन्द कराए जाने के दूसरे दिन ही भठ्ठा बिना किसी आदेश के संचालित होने लगा था। पर्यावरण क्रांति मित्र ट्रस्ट के अध्यक्ष जमशेद जिद्दी की शिकायत पर कमिश्नर रवि कुमार एनजी व एडीजी अखिल कुमार ने जब सख्त रुख अपनाया तो नई बाजार चौकी प्रभारी ने भठ्ठा संचालन बन्द कराया था। भठ्ठा बन्द हो जाने के बाद संचालक ने 30 वर्ष पूर्व प्रतिबंधित ईंट पकाने की पुरानी तकनीकी पजावा का सहारा लिया और भट्ठे के पास ही पजावा लगाकर उसमें आग लगाकर ईंट पकाना शुरू कर दिया। इसकी शिकायत किये जाने के बाद भी पुलिस व प्रशासन के लोग मौन धारण किये रहे। हालांकि प्रशासन पजावा को बन्द कराने का दावा कर रहा है। जबकि सच्चाई यह है कि पहला पजावा तो बन्द ही नहीं हुआ कि उसके बगल में दूसरा पजावा भी लगा दिया गया और उसमें आग लगाने की तैयारी चल रही है। संचालक द्वारा पजावा लगाकर ईंट पकाया जाना राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण और प्रदूषण विभाग के निर्देशों की खुली अवहेलना है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

error: Content is protected !!