राप्ती के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए जिला प्रशासन हुआ सतर्क, नगर आयुक्त ने जिम्मेदारों के साथ पंप स्टेशनों व रेगुलेटरों का किया निरीक्षण – समाचार पत्रिका

समाचार पत्रिका

Latest Online Breaking News

राप्ती के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए जिला प्रशासन हुआ सतर्क, नगर आयुक्त ने जिम्मेदारों के साथ पंप स्टेशनों व रेगुलेटरों का किया निरीक्षण

😊 Please Share This News 😊

रिपोर्ट: प्रमोद पाल

समाचार पत्रिका,गोरखपुर

विभागों के जिम्मेदार अधिकारी और कर्मचारी शहर में जल निकासी और नाले की सफाई की समस्या से जूझ ही रहे थे कि अब राप्ती के जलस्तर में लगातार बढ़ोत्तरी ने प्रशासन की नींद उड़ गई है। बाढ़ की आशंका को देखते हुए प्रशासन सतर्क हो गया है बीती रात 4 रेगुलेटर बंद कर दिए गए व पम्पो के माध्यम से पानी निकालने की व्यवस्था की गई। जहां एक तरफ राप्ती का जल स्तर बढ़ रहा है उसकी चिंता जिला प्रशासन को सताने लगी है वहीं दूसरी ओर अधिकारीयों की हलचल बधे पर बढ़ गई है और वह बंधे की ओर दौड़ना शुरू कर दिए हैं। विभागीय सूत्रों के मुताबिक बीते शाम 6:00 बजे इलाहीबाग, डोमिनगढ़ 10:00 बजे और लगभग 12 से 1 के बीच में बसियाडीह और कटानिया का भी रेगुलेटर बंद कर दिया गया । मालूम हो कि इलाहीबाग डोमिनगढ़ जलकल विभाग के नेतृत्व में शेष रेगुलेटर निर्माण विभाग के जिम्मे है दोनों विभागों की कर्मचारी व अधिकारियों को तैनात करके कार्यों का निस्तारण किया जाता है।

नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने विभागीय टीम के साथ हावर्ड बंधे पर पहुंचे :

वहीं दूसरी तरफ आज नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने विभागीय टीम के साथ हावर्ड बंधे पर लगे रेगुलेटर का निरीक्षण किया और पम्पो को चलाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। मौके पर उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए नगर आयुक्त ने कहा कि बाढ़ के अंदेशा को देखते हुए पंपों के माध्यम से पानी को निष्कासित किया जाय इसके लिए उन्होंने विभाग के जिम्मेदारों व कर्मचारियों को निर्देशित किया। इस दौरान महाप्रबन्ध जलकल सत्य प्रकाश श्रीवास्तव, मुख्य अभियन्ता सुरेश चन्द, सहायक नगर आयुक्त वैभव त्रिपाठी, अवर अभियन्ता अनिल कुमार श्रीवास्तव, सौरभ सिंह भी मौजूद रहे।

 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

error: Content is protected !!