गोरखपुर वासियों को जून में मिल सकता है आयुष विश्वविद्यालय का तोहफा, शिलान्यास के कार्यक्रम में राष्ट्रपति हो सकते हैं शामिल – समाचार पत्रिका

समाचार पत्रिका

Latest Online Breaking News

गोरखपुर वासियों को जून में मिल सकता है आयुष विश्वविद्यालय का तोहफा, शिलान्यास के कार्यक्रम में राष्ट्रपति हो सकते हैं शामिल

😊 Please Share This News 😊

रिपोर्ट: प्रमोद पाल

समाचार पत्रिका, गोरखपुर

गोरखपुर में लंबे समय का इंतजार अब खत्म होगा। आयुष विश्वविद्यालय की राह देख रहे पूर्वांचल वासियों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश के पहले आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास इसी महीने (जून) हो सकता है, प्रशासन ने इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी है। जिलाधिकारी के विजयेंद्र पांडियन ने ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सदर कुलदीप मीणा एवं तहसीलदार डॉक्टर संजीव दिक्षित के साथ इस विश्वविद्यालय के लिए चयनित जमीन का शुक्रवार को निरीक्षण किया और वहां जरूरी तैयारिया शुरूं करने का निर्देश दिया।

आयुष विश्वविद्यालय के लिए किस जगह की 52 एकड़ जमीन हुई चिन्हित :

प्रशासन ने इसके लिए भट्हट क्षेत्र के पिपरी एवं तरकुलहा में करीब 52 एकड़ जमीन चिन्हित की है, संभावना है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद विश्वविद्यालय का शिलान्यास करेंगे या ऑनलाइन जुड़ सकते हैं। जिला प्रशासन की तरफ से इसके लिए अस्थाई हेलीपैड बनाने की तैयारी चल रही है। जिलाधिकारी ने में मौके पर पहुंचकर भटहट की खंड विकास अधिकारी को फाइल तैयार करने और मनरेगा मजदूरों के जरिए ड्रेनेज को साफ कराने के निर्देश दिए हैं। सदर तहसीलदार का कहना है कि पुलिस का सहयोग लेकर अवैध कब्जा हटाया जाए गा प्रशासन ने कई स्थानों पर आयुष विश्वविद्यालय के लिए जमीन देखी थी लेकिन किन्ही कारणों से स्थान बदलना पड़ा अंत में भटहट क्षेत्र के बांस स्थान मार्ग पर 2 गांव में सीलिंग की जमीन कब्जे में ली गई यहीं प्रस्तावित आयुष विश्वविद्यालय का निर्माण होना है।

 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

error: Content is protected !!