माफिया प्रदीप सिंह पर कसा शिकंजा, प्रशासन ने जब्त की संपत्ति – समाचार पत्रिका

समाचार पत्रिका

Latest Online Breaking News

माफिया प्रदीप सिंह पर कसा शिकंजा, प्रशासन ने जब्त की संपत्ति

😊 Please Share This News 😊

रिपोर्ट: वी०पी० सिंह

समाचार पत्रिका, गोरखपुर

माफिया प्रदीप सिंह पर शिकंजा कसते हुए प्रशासन ने मंगलवार को पैतृक गांव मल्हीपुर में स्थित तीन मकान है तीनों मकानों को सील किया गया है वही दो लग्जरी कार को भी प्रशासन ने जब्त कर लिया है बताया जा रहा है कि उसकी पत्नी और माता के नाम से एक-एक लग्जरी वाहन है। साथ ही जमीन को सरकार के नाम दस्तावेज में दर्ज कर दिया गया है।

प्रदीप सिंह का ऐसे आया सुर्खियों में नाम :

1996 में पिपरौली के तत्कालीन ब्लॉक प्रमुख सुरेंद्र सिंह की हत्या के बाद प्रदीप सिंह का नाम सुर्खियों में आया था। कचहरी परिसर के गेट पर दिनदहाड़े हत्या करने के बाद प्रदीप उनके गनर की स्टेनगन लूटकर फरार हो गया था। ब्लॉक प्रमुख की हत्या में उस समय के कुख्यात बदमाश परवेज टांडा के साथ मिलकर प्रदीप सिंह ने इस घटना को अंजाम दिया था। बाद में परवेज टांडा ने नेपाल में अपना ठिकाना बना लिया था। परवेज टांडा कि नेपाल में ही हत्या हो गई थी।

ब्लाक प्रमुख रहे सुधीर सिंह से उनकी सीधी अदावत चलती थी और दोनों तरफ के गैंगवार में कई लोगों की हत्या की गई थी। बाद में दोनों पक्ष ने आपसी समझौता कर मामले को रफा-दफा कर जमानत पर बाहर आ गए थे। मगर पुलिस ने जिले के टॉप टेन बदमाशों की सूची में उनका नाम शामिल किया था और कुछ दिन पहले ही गैंगस्टर के एक मामले में उनकी गिरफ्तारी कर जेल भेजा गया था। इसके बाद ही प्रशासन ने उनकी संपत्ति को जब्त करने का फैसला किया। तहसीलदार सहजनवां शशि भूषण पाठक ने बताया कि जो संपत्ति माफिया प्रदीप सिंह द्वारा अर्जित की गई थी उसे चिन्हित कर जिला अधिकारी के आदेशानुसार सरकारी संपत्ति में स्थानांतरित कर दिया गया। मल्हीपुर स्थित आवास व वाहनों पर भी मंगलवार को तहसील प्रशासन ने जब्त कर लिया।

 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

error: Content is protected !!