लखनऊ: कड़ी निगरानी में गरीबों को निशुल्क राशन का वितरण शुरू, मुख्यमंत्री की टीम सहित आपूर्ति अधिकारियों ने परखी ज़मीनी हकीकत – समाचार पत्रिका

समाचार पत्रिका

Latest Online Breaking News

लखनऊ: कड़ी निगरानी में गरीबों को निशुल्क राशन का वितरण शुरू, मुख्यमंत्री की टीम सहित आपूर्ति अधिकारियों ने परखी ज़मीनी हकीकत

😊 Please Share This News 😊

नीरज तिवारी, लखनऊ

समाचार पत्रिका, ब्यूरो

राजधानी मेंं गुरुवार से सरकारी राशन की दुकानों से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मध्यम वर्ग और अंत्योदय श्रेणी में आने वाले कार्डधारको को निशुल्क राशन का वितरण प्रारंभ हुआ। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश के निर्देशन और एडीएम आपूर्ति जिलापूर्ति अधिकारी क्षेत्रीय खाद्य अधिकारियों और पूर्ति निरीक्षकों द्वारा कड़ी निगरानी की गयी। उल्लेखनीय है कि देश में फैली कोरोना वैश्विक महामारी की दूसरी लहर से जन मानस त्राहि-त्राहि कर रहा। ऐसी त्रासदी को ध्यान में रखते हुये केन्द्र की मोदी सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने ग़रीब और मध्य वर्ग के लोगों को मदद पहुंचाने को लेकर तीन माह तक प्रति व्यक्ति तीन किलो गेहूं और दो किलो चावल निशुल्क राशन दिये जाने का फैसला विगत दिनों लिया गया था। इसी क्रम में आज से राजधानी सहित प्रदेश के सभी जिलों में निशुल्क राशन वितरित किया जाना प्रारंभ हुआ। उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप आज सुबह राशन वितरण के पहले दिन राजधानी की अधिकांश सरकारी राशन की दुकानें सुबह छह बजे से खुल गयी और राशन वितरण प्रारंभ हो गया। इस दौरान राजधानी के राशन विक्रेताओं ने कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई में अनुपालन कराया गया। राशन दुकानों में दो गज की दूरी पर चिन्ह व गोले बनकर राशन लेने आने वालों को खड़ा कराया गया और टोकेन प्रणाली के तहत निशुल्क राशन वितरित किया गया। गौरतलब तलब हो कि आज की गयी कड़ी निगरानी का यह आलम रहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय की टीमों के साथ-साथ जिले के एडीएम आपूर्ति और जिला आपूर्ति अधिकारी ने अलग-अलग टीमें बनाकर राशन की दुकानों की जांच किया। इसके अलावा एआरओ हज़रतगंज और पूर्ति निरीक्षक सहित सभी क्षेत्रीय कार्यालयों के अधिकारियों ने दुकान-दुकान जाकर निशुल्क राशन वितरण की ज़मीनी हकीकत को परखा।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

error: Content is protected !!