कोरोना महामारी और लाकडाउन भत्ता दे सरकार : कालीशंकर – समाचार पत्रिका

समाचार पत्रिका

Latest Online Breaking News

कोरोना महामारी और लाकडाउन भत्ता दे सरकार : कालीशंकर

😊 Please Share This News 😊

रिपोर्ट : आर०ए० पांडेय

समाचार पत्रिका, गोरखपुर

चौरीचौरा (गोरखपुर) समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व यूपी सहकारी बैंक के पूर्व निदेशक कालीशंकर यादव ने कहा है कि ऐसा लगता है कि प्रदेश में बिचौलियों की सत्ता है। स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह ध्वस्त हैं। इलाज न मिलने के कारण लोग तड़प तड़प कर मर रहे हैं। कोरोना महामारी और लाकडाउन के कारण लोग अपने परिवार का भरण पोषण नहीं कर पा रहे। ऐसी स्थिति में प्रदेश सरकार जनता के लिए कोरोना महामारी लाकडाउन भत्ता दे ताकि लोग उत्पन्न आर्थिक संकट से निजात पा सकें।

मुनाफाखोरी पर लगाम के साथ जनता के इलाज का हो पुख्ता इंतेजाम : कालीशंकर

मुख्य सचिव को प्रेषित ज्ञापन में कालीशंकर ने कहा है कि कोरोना महामारी के कारण लाकडाउन लगा रखा है। जिससे मजदूरों, किसानों, बेरोजगारों और छोटे फुटकर व्यापारियों के समक्ष जबरदस्त आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। लोगों को खाने पीने और दैनिक जीवन की मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति करने में आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। जिससे लोग डिप्रेशन का शिकार हो रहे हैं। खाद्य पदार्थों की कीमतें आसमान छू रही हैं। मुनाफाखोर जनता को लूटने में लगे हैं और सरकार उन पर लगाम लगाने में असफल है। प्रदेश में चारो तरफ त्राहि माम मचा है। प्रदेश सरकार के कुप्रशासन के कारण मरने के बाद लोग अपने लोगों का अंतिम संस्कार भी सुचारु रूप से नहीं कर पा रहे हैं। कालीशंकर ने मुख्य सचिव के माध्यम से मांग किया है कि किसानों, मजदूरों, बेरोजगारों, नौजवानों, छात्रों व छोटे व्यापारियों को कोरोना महामारी लाकडाउन भत्ता दिया जाए। खाद्य तेलों को 50 प्रतिशत सब्सिडी पर खुले मार्किट में बेचा जाए। लोगों को मुफ्त में हैंड सेनेटाइजर, मास्क और आवश्यक दवाइयां दी जाएं। रसोई गैस कम से कम 50 प्रतिशत सब्सिडी पर आपूर्ति की जाए। समाजवादी सरकार की तरह समाजवादी एम्बुलेंस सेवा चलाई जाए जो आक्सीजन से लैस हो। जनता के इलाज के लिए पुख्ता इंतजाम किया जाए और शमशान घाटों पर शवों के अंत्येष्टि के लिए उचित व्यवस्था के साथ साफ सफाई हो। कालीशंकर ने कहा है कि प्रदेश सरकार को भारतीय संविधान की लोक कल्याणकारी राज्य की भवना को ध्यान में रखते हुए लोकहित में काम करना चाहिए।

 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

error: Content is protected !!