लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना से प्रभावित हैं 1218 थानें, पुलिस के 1276 जवान कोरोना से हुए संक्रमित – समाचार पत्रिका

समाचार पत्रिका

Latest Online Breaking News

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना से प्रभावित हैं 1218 थानें, पुलिस के 1276 जवान कोरोना से हुए संक्रमित

😊 Please Share This News 😊

नीरज तिवारी, लखनऊ

समाचार पत्रिका, ब्यूरो

कोरोना बीमारी से निपटने के लिये यूपी पुलिस लगातार 24 घंटे कार्य कर रही है। संकमण से बचने के लिये राज्य स्तरीय व्यवस्था के तहत कुल कन्टेनमेंट जोन की संख्या : 77989 है, जिसमें कुल 1218 थाने प्रभावित हैं। इन कन्टेनमेंट जोन के अन्तर्गत 716475 मकान हैं, जिनमें 36 लाख की जनसंख्या निवास कर रही है। नगर पालिका एवं ग्रामीण इलाकों में पंचायतों द्वारा स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है।
एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि इसके अतिरिक्त अग्निशमन विभाग के द्वारा फायर टेण्डरों के माध्यम से छिडकाव कराया जा रहा है। जिससे कोरोना के संकमण को रोका जा सके। उन्होंने बताया कि कन्टेनमेंट जोन में कुल बैरेकेटिंग की संख्या लगभग 95448 है तथा पुलिस द्वारा 44788 मोबाइल लाउडस्पीकर व लाउडहेलर के माध्यम से जनता को संक्रमण से रोकने के तरीकों के सम्बन्ध में जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कन्टेनमेंट जोन में 25776 पुलिस कर्मी तैनात किये गये है। इसके अतिरिक्त एनसीसी व एनएसएस के बालक इत्यादि लोगों को भी इस डियूटी में लगाया जाये। पिछले 24 घंटों में मास्क न लगाने हेतु प्रदेश भर में 57753 चालान किये गये है और करीब 01 करोड़ 19 लाख 68 हजार 200 रूपये की धनराशि का शमन शुल्क जमा किया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस बल के 1276 जवान संकमित हैं। लगातार शासन एवं पुलिस महानिदेशक  के स्तर से जो भी पुलिस कर्मी या तो कन्टेनमेंट जोन में हो या डियूटी में हों या पंचायत चुनाव में हों, इनको लगातार मास्क लगाने, फेसशील्ड पहनने, ग्लब्स पहनने, सेनेटाइजर का उपयोग करने आदि के बारे में निर्देशित किया गया है तथा यह सामान मुहैया कराये गये हैं। इसके अतिरिक्त जीवन उपयोगी दवायें जैसे कि रेडिमीसीवर या आक्सीजन की कालाबाजारी की शिकायतें मिली है। उनसे निपटने के लिये जिला पुलिस एवं एसटीएफ को औषधि विभाग की सहायता से छापेमारी के लिये लगाया गया है। जिनमें से कुछ ऐसे आरोपी कानपुर व नोएडा में गिरफ्तार भी हुये है। जो भी व्यक्ति इन जीवन रक्षक वस्तुओं की कालाबाजारी करते हुये पकड़े जायेगें, उनके विरूद्ध गैंगेस्टर तथा रासुका की कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण के पंचायत चुनाव में अनियमितता होने वाले 08 जनपदों के 18 मतदान केन्द्रों में पुर्नमतदान चल रहा है। जहाँ शान्तिपूर्ण तरीके से मतदान प्रचलित है। प्रथम व द्वितीय चरण के चुनाव में जिन अराजकतत्वों ने मतदान के दौरान हिंसा की थी उन पर कठोर कार्यवाही की जा रही है, जिसमें अकेले प्रतापगढ़ जनपद में ही पिछले 24 घंटों में 140 आरोपी गिरफ्तार किये गये है, जिन्होंने मतपेटिकाओं को लूटने अथवा डियूटी पर मौजूद सरकारी कर्मचारियों तथा पुलिस कर्मियों के साथ अभद्रता व हिंसा की है। उन पर गम्भीर धाराओं में मुकदमें दर्ज किये गये है तथा इनसे अत्यन्त कडाई से निपटने के आदेश शासन के द्वारा दिये गये है। पुलिस कर्मियों को कोरोना से अपना बचाव करते हुये जनता की निरन्तर सेवा करने एवं कन्टेनमेंट जोन का पूर्णतया पालन कराने का लक्ष्य सौपा गया है ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

error: Content is protected !!