लखनऊ: एटा और बरेली में चुनावी रंजिश को लेकर दो की हत्या। कौशाम्बी में प्रत्याशियों के समर्थक आपस मे भिड़े, जमकर हुई मारपीट। अमरोहा में भी चली गोली, एक घायल। बाराबंकी में पर्चा वापस न लेने पर अगवा करने का प्रयास। प्रदेश में 71 प्रतिशत मतदाताओं ने डाला वोट – समाचार पत्रिका

समाचार पत्रिका

Latest Online Breaking News

लखनऊ: एटा और बरेली में चुनावी रंजिश को लेकर दो की हत्या। कौशाम्बी में प्रत्याशियों के समर्थक आपस मे भिड़े, जमकर हुई मारपीट। अमरोहा में भी चली गोली, एक घायल। बाराबंकी में पर्चा वापस न लेने पर अगवा करने का प्रयास। प्रदेश में 71 प्रतिशत मतदाताओं ने डाला वोट

😊 Please Share This News 😊

नीरज तिवारी, लखनऊ
समाचार पत्रिका, ब्यूरो
यूपी में पंचायत चुनाव की रंजिश को लेकर एटा और बरेली में दो लोगों की हत्या कर दी गई। वहीं कौशाम्बी में प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़ गए। इसके अलावा प्रदेश के अन्य स्थानों पर भी मारपीट व तकरार की घटनाएं हुई हैं। घटनाओं की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस जांच-पड़ताल कर कार्रवाई में जुटी है। त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन के द्वितीय चरण के 20 जनपदों मेंं मंगलवार को 52623  बूथों पर 32369280 मतदाताओं में से 71 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। प्रदेश के एटा जिले की कोतवाली क्षेत्र में प्रधान पद प्रत्याशी अजय रायल यादव निवासी नगला समन अपने पिता व अन्य समर्थकों के साथ पड़ोस के गांव बावसा में चुनाव प्रचार करने गये थे। जहाँ पर प्रधान प्रत्याशी राजेन्द्र शाक्य (कुशवाहा) के समर्थक प्रदीप जैन से विवाद होने पर अपने साथियों के साथ मिलकर प्रदीप जैन को पेट में गोली मार दिया। उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। जहां उनकी मौत हो गई। सूचना पर एसपी मौके पर गये और घटना स्थल का मुआयना किया। अमरोहा जिले के रजबपुर में प्रधान पद प्रत्याशी कमल सिंह  को दूसरे प्रधान प्रत्याशी देवेन्द्र सिद्धू के समर्थक गांव के नितिन जाट व अरविन्द कुमार ने अपने साथी राजेन्द्र जाट, उमेश के साथ मिलकर, चुनावी रंजिश में गांव में ही सीने में गोली मार दिया। जिला अस्पताल अमरोहा में उनका इलाज चल रहा है। प्रभारी निरीक्षक के अनुसार घायल कमल सिंह की हालत सामान्य है। उन्होंने कहा कि वायरल वीडियो में नजर आ रहे शक्स की पहचान सतीश निवासी नितारीफपुर के रूप में हुई है। जिसे पुलिस ने चार अन्य के साथ हिरासत में लिया है। कौशाम्बी जिले के ग्राम बरई-बथवा में चुनाव प्रचार के दौरान प्रधान पद की उम्मीदवार शर्मीला एवं प्रधान पद की उम्मीदवार सोनारन देवी के समर्थको के बीच आपसी कहासुनी व मारपीट हुई। इस दौरान दोनों पक्षों के लोग व बीडीसी प्रत्याशी रमेश घायल हो गये। उन्हें उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंचे एसपी सिटी व सीओ ने निरीक्षण किया। वहीं बरेली जिले के भोजीपुरा प्रधान प्रत्याशी नरेन्द्र गंगवार निवासी बिबियापुर का शव गांव के बाहर जंगल में प्रात: काल साढ़े छह बजे पड़ा मिला। मृतक के सिर पर धारदार हथियार की चोट के निशान हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि मृतक प्रधान प्रत्याशी के समर्थक महेन्द्र गंगवार पुत्र जयपाल व प्रधान प्रत्याशी धर्मवीर गंगवार पुत्र देवदत्त के बीच चुनावी रंजिश को लेकर रात्रि में विवाद हुआ था। वहीं बाराबंकी जिले के टिकैतनगर में बीडीसी प्रत्याशी उर्मिला मौर्य निवासी भाड़ेमऊ  मजरा चिर्रा ने सुधीर सिंह एवं मिंटू सिंह व सोनू सिंह आदि के विरूद्ध जबरन उठाने का प्रयास करने का अभियोग पंजीकृत कराया गया। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि सुधीर सिंह, उर्मिला पर पर्चा वापस लेने का दबाव बना रहा था एवं मिंटू सिंह व सोनू सिंह निवासी ग्राम सोनबरसा उर्मिला पर लड़ने का दबाव बना रहे थे। मिंटू सिंह, सोनू सिंह,  रामनरेश सुमित आदि नौ लोगो के विरूद्ध 151,107,116 की कार्रवाई  की गयी है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

error: Content is protected !!